BL Agrawal IAS Officer received great relief

 
 

भ्रष्टाचार के आरोपों से घिरे बीएल अग्रवाल (Dr. BL Agrawal IAS Officer) की मुश्किलें उस वक्त बढ़ गई थी जब सीबीआई को रिश्वत देने के आरोप में उन्हें सीबीआई द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया था. उनकी गिरफ्तारी के बाद राज्य सरकार ने भी कार्रवाई करते हुए उन्हें सेवा से बर्खास्त कर दिया था. हालांकि जेल से छूटने के बाद बीएल अग्रवाल ने सरकार की इस कार्रवाई के खिलाफ कैट में अपनी याचिका दाखिल की थी जिस पर कैट ने उन्हें बहाल कर दिया था.

आपको बता दें कि पिछले साल ईडी ने कार्रवाई करते हुए बीएल अग्रवाल की 36 करोड़ की संपत्ति जब्त कर ली थी.